header ads

100+ Best Love Shayari sharabi Hindi Status

Best Love ShayariLove Shayari Hindi StatusTrue Love Shayari


आखों की गहराई में तेरी खो जाना चाहता हूँ आज तुझे बाँहों में लेकर सो जाना चाहता हूँ तोड़ कर हदे मैं आज सारी अपना तुझे बना लेना चाहता

 Best Love ShayariLove Shayari Hindi StatusTrue Love Shayari


हम पीना चाहते है.. उनकी निगाहों से, हम जीना चाहते हैं.. उनकी पनाहों में, हम चलना चाहते हैं.. उनकी राहों में, हम मरना चाहते हैं.. उनकी बाहों में!


सकून मिलता है जब उनसे बात होती है, हज़ार रातों में वो एक रात होती है, निगाह उठाकर जब देखते हैं वो मेरी तरफ, मेरे लिए वो ही पल पूरी कायनात होती है।


हमने जो की थी मोहब्बत वो आज भी है, तेरे जुल्फों के साये की चाहत आज भी है, रात कटती है आज भी ख्यालों में तेरे, दीवानों सी मेरी वो हालत आज भी है, किसी और के तसब्बुर को उठती नहीं. बेईमान आँखों में थोड़ी सी शराफत आज भी है। 


Best Love ShayariLove Shayari Hindi StatusTrue Love Shayari


मुझको छूके मुझको छूके पिघल रहे हो तुम , मेरे हमराह जल रहे हो तुम। चाँदनी छन रही है बादल से , जैसे कपड़े बदल रहे हो तुम। पायलें बज रही हैं रह रह कर , ये हवा है कि चल रहे हो तुम। नींद भी टूटने से डरती है , मेरे ख़्वाबों में ढल रहे हो तुम।


अगर तुम न होते तो ग़ज़ल कौन कहता, तुम्हारे चहरे को कमल कौन कहता, यह तो करिश्मा है मोहब्बत का.. वरना पत्थर को ताज महल कौन कहता।

मेरी आँखों में झाँकने से पहले, जरा सोच लीजिये ऐ हुजूर.. जो हमने पलके झुका ली तो कयामत होगी, और हमने नजरें मिला ली तो मुहब्बत होगी।


किसी को उनसे मिल के इश्क़ हुवा, किसी को उनको देख के इश्क़ हुवा, एक हम ही थे जो उनको न देखे न मिले, हमको तो उनसे हुई बातों से ही उनसे इश्क़ हुवा।


किया है प्यार जिसे हमने ज़िन्दगी की तरह, वो मिला भी हमसे अजनबी की तरह, किसे ख़बर थी बढ़ेगी कुछ और तारीकी, छुपेगा वो किसी बदली में चाँदनी की तरह।



पहली मोहब्बत मेरी हम जान न सके, प्यार क्या होता है हम पहचान न सके, हमने उन्हें दिल में बसा लिया इस कदर कि, जब चाहा उन्हें दिल से निकाल न सके।


तेरा नाम ही ये दिल रटता है, ना जाने तुम पे ये दिल क्यू मरता है, नशा है तेरे प्यार का इतना, कि तेरी ही याद में ये दिन कटता है।

 Best Love ShayariLove Shayari Hindi StatusTrue Love Shayari


उनके दीदार के लिए दिल तड़पता है, उनके इंतजार में दिल तरसता है, क्या कहें इस कम्बख्त दिल को.. अपना हो कर किसी और के लिए धड़कता है।


जब कोई ख्याल दिल से टकराता है, दिल न चाह कर भी खामोश रह जाता है, कोई सब कुछ कहकर प्यार जताता है, कोई कुछ न कहकर भी सब बोल जाता है।


आदत बदल दू कैसे तेरे इंतेज़ार की, ये बात अब नही है मेरे इकतियार की, देखा भी नही तुझ को फिर भी याद करते है, बस ऐसी ही खुश्बू है दिल मे तेरे प्यार की.


Sad Love Shayari


आती हैं जब भी हिचकियाँ अब,
शराब मैं पी लेता हूँ….
अब तो वो वहम भी छोड़ दिया है,
कि कोई मुझे भी याद करता है…..

 Sharabi Shayari
पीता था शराब मैं उसने दी छुड़ा


पीता था शराब मैं,
उसने दी छुड़ा अपनी कसम देकर,
जब गया महफ़िल में मैं,
तो दोस्तों ने पीला दी उसी की कसम देकर !!!

 Sharabi Shayari

पी चुके हैं शराब हम हर गली हर दूकान से,
एक रिश्ता सा बन गया है शराब के ज़ाम से,
पाये हैं ज़ख्म हमने इश्क़ में ऐसे,
कि नफ़रत सी हो गयी है हमें इश्क़ के नाम से !!



मोहब्बत भी उस मोड़ पे पहुँच चुकी है
मोहब्बत भी उस मोड़ पे पहुँच चुकी है,
कि अब उसको प्यार से भी मेसेज करो,
तो वो पूछती है कितनी पी है…!!!

 Sharabi Shayari


या खुदा ‘दिल’ तो तुडवा दिया तूने इश्क के चक्कर में,
कम से कम ‘लीवर’ तो संभालना दारु पीने के लिए

 Sharabi Shayari

‘तू’ डालता जा साकी शराब मेरे प्यालो में,
जब तक ‘वो’ न निकले मेरे ख्यालों से………!!!

 Best Love ShayariLove Shayari Hindi StatusTrue Love Shayari

 Sharabi Shayari


मेरी कबर पे मत गुलाब लेके आना
न ही हाथों में चिराग लेके आना
प्यासा हूँ मैं बरसो से जानम
बोतल शराब की और एक गिलास लेके आना

 Sharabi Shayari


मोहब्बत से गुजरा हूँ
अब मयख़ाने में जाना है
दोनों का असर एक ही है
बस होश ही तो गंवाना है

 Sharabi Shayari


रोक दो मेरे जनाज़े को जालिमों,
मुझमें जान आ गयी है,
पीछे मुड़के देखो कमीनो,
दारू की दुकान आ गयी है…

 Sharabi Shayari


पीके रात को हम उनको भुलाने लगे,
शराब में गम को मिलाने लगे,
दारू भी बेवफा निकली यारों,
नशे में तो वो और भी याद आने लगे…


रात चुप है मगर चाँद खामोश नहीं,
कैसे कहूँ आज फिर होश नहीं,
इस तरह डूबा हूँ तेरी मोहब्बत की गहराई में,
हाथ में जाम है और पीने का होश नहीं..



आती हैं जब भी हिचकियाँ अब,
शराब मैं पी लेता हूँ….
अब तो वो वहम भी छोड़ दिया है,
कि कोई मुझे भी याद करता है…..

 Best Love ShayariLove Shayari Hindi StatusTrue Love Shayari


 Sharabi Shayari

पी चुके हैं शराब हम हर गली हर दूकान से,
एक रिश्ता सा बन गया है शराब के ज़ाम से,
पाये हैं ज़ख्म हमने इश्क़ में ऐसे,
कि नफ़रत सी हो गयी है हमें इश्क़ के नाम से !!

Love Shayari for HerLove Shayari


कितना प्यार है उनसे काश वो ये जान लें, वो ही है ज़िंदगी मेरी ये बात मान लें, उनको देने को नहीं कुछ पास हमारे, बस एक जान है हमारी जब चाहे मांग लें! 


मोहब्बत तो सिर्फ एक इत्तेफाक है, ये तो दो दिलों की मुलाकात है, मोहब्बत ये नहीं देखती कि दिन है या रात है, इसमें तो सिर्फ वफादारी और जज़्बात है।

सफर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो, नजर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो, हजारों फूल देखे हैं इस गुलशन में मगर, खुशबू वहीं तक है जहाँ तक तुम हो


कितना खूबसूरत चेहरा है तुम्हारा, ये दिल तो बस दीवाना है तुम्हारा, लोग कहते है चाँद का टुकड़ा तुम्हें, पर मैं कहता हूँ चाँद भी टुकड़ा है तुम्हारा।


featuredHala


बोतल छुपा दो कफ़न में मेरे
शमशान में पिया करूंगा,
जब खुदा मांगेगा हिसाब
तो पैग बना के दिया करूंगा





पी के रात को हम उनको भुलाने लगेशराब मे ग़म को मिलाने लगेये शराब भी बेवफा निकली यारोनशे मे तो वो और भी याद आने लगे !


बैठे हैं दिल में ये अरमां जगाये;
कि वो आज नजरों से अपनी पिलायें;
मजा तो तब है पीने का यारो;
इधर हम पियें और नशा उनको आये।



मे तोड़ लेता अगर तू गुलाब होती
मे जवाब बनता अगर तू सबाल होती
सब जानते है मैं नशा नही करता,
मगर में भी पी लेता अगर तू शराब होती!

नशा पिला के गिराना तो सब को आता है;
मज़ा तो तब है कि गिरतों को थाम ले साक़ी।

जिगर की आग बुझे जिससे जल्द वो शय ला, लगा के बर्फ़ में साक़ी, सुराही-ए-मय ला।


जिगर की आग बुझे जिससे जल्द वो शय ला,
लगा के बर्फ़ में साक़ी, सुराही-ए-मय ला।



पीने से कर चुका था मैं तौबा मगर ‘जलील’;
बादल का रंग देख के नीयत बदल गई।



ऐ ज़ौक़ देख दुख़्तर-ए-रज़ को न मुँह लगा,
छुटती नहीं है मुँह से ये काफ़र लगी हुई।


आता है जी में साक़ी-ए-मह-वश पे बार बार,
लब चूम लूँ तिरा लब-ए-पैमाना छोड़ कर।

 Best Love ShayariLove Shayari Hindi StatusTrue Love Shayari

न गुल खिले हैं न उन से मिले न मय पी है;अजीब रंग में अब के बहार गुज़री है।~ Faiz Ahmad Faiz


  • मैं थोड़ी देर तक बैठा रहा उसकी आँखों के मैखाने में;
  • दुनिया मुझे आज तक नशे का आदि समझती है।



आए थे हँसते खेलते मय-ख़ाने में ‘फ़िराक़’;
जब पी चुके शराब तो संजीदा हो गए।
~ Firaq Gorakhpuri



बोतलें खोल कर तो पी बरसों;आज दिल खोल कर भी पी जाए।~ Rahat Indori


तेरे होठों में भी क्या खूब नशा मिला;यूँ लगता है तेरे जूठे पानी से ही शराब बनती है।
ग़म इस कदर मिला कि घबरा के पी गए;
ख़ुशी थोड़ी सी मिली तो मिला के पी गए;
यूँ तो ना थे जन्म से पीने की आदत;
शराब को तनहा देखा तो तरस खा के पी गए।



ना पीने का शौक था, ना पिलाने का शौक था;
हमे तो सिर्फ नज़र मिलाने का शौक था;
पर क्या करे यारो, हम नज़र ही उनसे मिला बैठे;
जिन्हें सिर्फ नज़रों से पिलाने का शौक था।


फिर ना पीने की कसम खा लूँगा;
साथ जीने की कसम खा लूँगा;
एक बार अपनी आँखों से पिला दे साकी;
शराफत से जीने की कसम खा लूँगा।



मैं उनकी आँखो से छलकती शराब पीता हूँ;
गरीब हो कर भी मँहगी शराब पीता हूँ;
मुझे नशे में वो बहकने नहीं देते;
उन्हें तो खबर ही नहीं कि मैं कितनी शराब पीता हूँ।

बड़ी भूल हुई अनजाने में, ग़म छोड़ आये महखाने में;
फिर खा कर ठोकर ज़माने की, फिर लौट आये मयखाने में;
मुझे देख कर मेरे ग़म बोले, बड़ी देर लगा दी आने में।


मौसम भी है, उम्र भी, शराब भी है;
पहलू में वो रश्के-माहताब भी है;
दुनिया में अब और चाहिए क्या मुझको;
साक़ी भी है, साज़ भी है, शराब भी है।
~ Akhtar Sheerani

 Best Love ShayariLove Shayari Hindi StatusTrue Love Shayari



कुछ सही तो कुछ खराब कहते हैं;
लोग हमें बिगड़ा हुआ नवाब कहते हैं;
हम तो बदनाम हुए कुछ इस कदर;
कि पानी भी पियें तो लोग शराब कहते हैं।



मैखाने मे आऊंगा मगर पिऊंगा नहीं, ऐ साकी;
ये शराब मेरा गम मिटाने की औकात नही रखती!



बैठे हैं दिल में ये अरमां जगाये;
कि वो आज नजरों से अपनी पिलायें;
मजा तो तब है पीने का यारो;
इधर हम पियें और नशा उनको आये।

पी के रात को हम उनको भुलाने लगे;
शराब मे ग़म को मिलाने लगे;
ये शराब भी बेवफा निकली यारो;
नशे मे तो वो और भी याद आने लगे।



ग़म इस कद्र बढे कि घबरा कर पी गया;
इस दिल की बेबसी पर तरस खा कर पी गया;
ठुकरा रहा था मुझे बड़ी देर से ज़माना;
मैं आज सब जहां को ठुकरा कर पी गया!
~ Sahir Ludhianvi



नफरतों का असर देखो जानवरों का बटंवारा हो गया;
गाय हिन्दू हो गयी और बकरा मुसलमान हो गया;
मंदिरो मे हिंदू देखे, मस्जिदो में मुसलमान;
शाम को जब मयखाने गया तब जाकर दिखे इन्सान!



आप को इस दिल में उतार लेने को जी चाहता है;
खूबसूरत से फूलों में डूब जाने को जी चाहता है;
आपका साथ पाकर हम भूल गए सब मैखाने;
क्योकि उन मैखानो में भी आपका ही चेहरा नज़र आता है।



मेरी तबाही का इल्जाम अब शराब पर है;
करता भी क्या और तुम पर जो आ रही थी बात।



लानत है ऐसे पीने पर हज़ार बार;
दो घूंट पीकर ठेके पर ही लंबे पसर गये।
~ Amjad Jodhpuri



हर तरफ खामोशी का साया है;
जिसे चाहते थे हम वो अब पराया है;
गिर पङे है हम मोहब्बत की भूख से;
और लोग कहते है कि पीकर आया है।



शराब पी के रात को हम उनको भुलाने लगे;
शराब मे ग़म को मिलाने लगे;
ये शराब भी बेवफा निकली यारो;
नशे मे तो वो और भी याद आने लगे।



ग़म इस कदर बढे कि घबरा कर पी गया;
इस दिल की बेबसी पर तरस खा कर पी गया;
ठुकरा रहा था मुझे बड़ी देर से ज़माना;
मैं आज सब जहां को ठुकरा कर पी गया!

Post a Comment

0 Comments