header ads

Hindi Shayari Best Love, Sad, Romantic, Attitude, Dard Shayari 2050

Best Love, Sad, Romantic, Attitude, Dard Shayari 2050

love shayari sad shayari very sad 2 line shayari sad shayari lyrics attitude shayari romantic shayari so sad shayari dp shayari in hindi

 मौका सब को मिलता है अब बारी मेरी है

अब तक जो किया उसका गम नहीं

और अब जो करूंगा सुल्तान मिर्ज़ा से कम नहीं

Best Love, Sad, Romantic, Attitude, Dard Shayari 2050


ना पेशी होगी, न गवाह होगा, अब जो भी हमसे उलझेगा बस सीधा तबाह होगा


आग लगाना मेरी फितरत में नही है,

मेरी सादगी से लोग जलें तो इसमें मेरा क्या कसूर



मैंने भी बदल  दिए  अपने  ज़िन्दगी  के उसूल

अब  जो  याद  करेगा  वो  याद  रहेगा



कदर कर लो उनकी जो तुमसे,

बिना मतलब की चाहत करते है,

दुनिया मे ख्याल रखने वाले कम,

और तकलीफ देने वाले ज्यादा होते है!


बिन बात के ही रूठने की आदत है

किसी अपने का साथ पाने की चाहत है

आप खुश रहें, मेरा क्या है

मैं तो आइना हूँ, मुझे तो टूटने की आदत है।


प्यार  क्या  होता  है  हम  नहीं  जानते ,

ज़िन्दगी  को  हम  अपना  नहीं  मानते ,

गम  इतने  मिले  के  एहसास  नहीं  होता ,

कोई  हमे  प्यार  करे  अब  विश्वास  नहीं  होता .

Best Love, Sad, Romantic, Attitude, Dard Shayari 2050


सालो  का  तजुर्बा  तो  नहीं  दोस्तों  पर  दावे  के  साथ  कहती  हु ,

अतीत  का  एक  पत्र  ही  काफी  होता  है  आँशु  बहाने  के  लिए ,


दर्द  है  दिल  में  पर इसका  एहसास  नहीं  होता ,

रोता है दिल जब वो पास नहीं  होता ,

बर्बाद  होगये  हैं  हम  उनकी  मोहब्बत  में ,

और  वो  केहते  हैं  की  इस  तरह  से  प्यार  नहीं  होता


मोहब्बत  के  उसूलों  में  ये  पहला  उसूल  अपना

के  हम  अपनी  मोहब्बत  को  कभी  रुशवा  नहीं  करते


ये भी अच्छा है की सिर्फ सुनता है दिल

अगर बोलता तो कयामत हो जाती


चाहा है तुम्हे अपने अरमानों से भी ज़्यादा,

लगती हो हसीं तुम मुस्कान से भी ज़्यादा,

मेरी हर धड़कन हर सांस है तुम्हारे लिए,

क्या मांगोगे जान मेरी जान से भी ज़्यादा।


सवाल जहर का नहीं था वो तो मैं पी गया. . .

तकलीफ लोगों को तब हुई जब मैं थोड़ा जी गया. .


अब  भी  ताज़ा  है  ज़ख्म  सीने  में ,

बिन  तेरे  क्या  रखा  है  जीने  में ,

हम  तो  ज़िंदा  हैं  तेरा  साथ  पाने  को ,

वर्ण  देर  कितनी  लगती  है  ज़हर  पीने में

मेरी तस्वीर बनाने की जो जिद अब है तुम को,

क्या मेरे उदास चेहरे की तुम तस्वीर बना पाओगे,


 

सिखा न सकी जो उम्र भर तमाम किताबे मुझे..

करीब से कुछ चेहरे पढे और न जाने कितने.. सबक सीख लिए।

Best Love, Sad, Romantic, Attitude, Dard Shayari 2050


गुजर रही है जिन्दगी

बड़े ही नाजुक दौर से,,,

मिलती नहीं तसल्ली,

तेरे सिवा किसी और से,,,।



प्यार  दरिया  है  जिसका  साहिल  नहीं  होता ,

हर  दिल  मोहब्बत  के  क़ाबिल  नहीं  होता ,

रोता  वो  भी  है  जो  डूबा  है  प्यार  में ,

और  रोता  वो  वि  है  जिसे  प्यार  हासिल  नहीं  होता ..


रिश्ता वो नहीं जिसमे जीत और हार हो,

रिश्ता वो नहीं जिसमे इजहार और इंकार हो,

रिश्ता तो वो है जिसमे किसी की..

उम्मीद ना हो लेकिन फिर भी उसका इन्तेजार हो..


रखा करो नजदीकियां, ज़िन्दगी का कुछ भरोसा नहीं

फिर मत कहना चले भी गए और बताया भी नहीं.


 

कामयाबी हमेशा हौसलों से मिलती है, हौसले हमेशा दोस्तों से मिलते हैं,

अच्छे दोस्त मुश्किल से मिलते हैं, और आप जैसे दोस्त नसीब से मिलते हैं।


दोस्तों से बिछड़ के यह एहसास हुआ, ग़ालिब,

थे तो कमीने लेकिन रौनक भी उन्ही से थी।



आपकी दोस्ती ने हमें जीना सिखा दिया,

रोते हुए दिल को हँसना सिखा दिया,

कर्ज़दार रहेंगे हम उस खुदा के,

जिसने आप जैसे दोस्त से मिला दिया।


हर दोस्त से बात करना फितरत है हमारी,

हर दोस्त खुश रहे हसरत है हमारी,

कोई हमें याद करे या ना करे,

लेकिन सबको याद करना आदत है हमारी।


दोस्ती दर्द नहीं,खुशियों की सौगात है,

किसी अपने का उम्र भर का साथ है;

ये तो दिल का वो खूबसूरत एहसास है,

जिसके दम से रोशन ये सारी कायनात है।


Best Love, Sad, Romantic, Attitude, Dard Shayari 2050


बहुत खूबसूरत होते है ऐसे रिश्ते

जिन पर कोई हक भी ना हो

और कोई शक भी न हो


ए दोस्त तेरी दोस्ती पर नाज़ करते हैं,

हर वक्त मिलने की फ़रियाद करते हैं,

हमें नहीं पता घर वाले बताते हैं,

हम नींद में भी आपसे बात करते हैं।


ज़िन्दगी रहे ना रहे दोस्ती रहेगी।

पास रहो या दूर रहो यादे रहेगी।

अपनी ज़िंदगी मे हमेशा हँसते रहना।

क्योंकि तेरी हँसी में एक मुस्कान मेरी भी रहेगी।


वक्त की यारी तो हर कोई करता है मेरे दोस्त,

मजा तो तब है जब वक्त बदले पर यार ना बदले।


दोस्ती  करो  तो  हमेशा  मुस्करा   कर

किसी  को  देखा  न  देना  अपना  बनाकर


हम वक्त गुजारने के लिए

दोस्तों को नही रखते,

दोस्तों के साथ रहने केलिए वक्त रखते है.


झूठा अपनापन तो हर कोई जताता है,

वो अपना ही क्या जो पल पल सताता है,

यकीं न करना हर किसी पर क्यूंकि,

करीब कितना है कोई यह तो वक्त बताता है..


इश्क ओर दोस्ती मेरे दो जहान है,

इश्क मेरी रुह, तो दोस्ती मेरा ईमान है,

इश्क पर तो फिदा करदु अपनी पुरी जिंदगी,

पर दोस्ती पर, मेरा इश्क भी कुर्बान है.


Best Love, Sad, Romantic, Attitude, Dard Shayari 2050


जो दोस्त हैं वो माँगते हैं सुल्ह की दुआ

दुश्मन ये चाहते हैं कि आपस में जंग हो


दोस्त हमदर्द  होने  चाहिए

सररदर्द  बनने  के  लिए  तो  पूरी  दुनिया  तैयार  बैठी  है



दर्द था दिल में पर जताया कभी नहीं

आँसू थे आँखो में पर दिखाया कभी नहीं

यही फ़र्क है दोस्ती और प्यार में

इश्क़ ने हँसाया कभी नहीं…

और दोस्तों ने रुलाया कभी नहीं।


रेगिस्तान भी हरे हो जाते है,

जब अपने साथ अपने भाई खड़े हो जाते है.


जब कोई नहीं था तो बहुत अनमोल थे हम

नए लोग मिल गए तो हमारी कोई औकात नहीं रही


आँखों की गहराई को समझ नहीं पाते,

होठ है मगर कुछ हम कह नहीं पाते,

अपनी दिल की बात किस तरह कहे तुमसे,

तुम वही हो जिनके बिना हम रह नहीं पाते..|


कल  तक  सिर्फ  एक  अजनबी  थे  तुम ,

आज  दिल  की  एक  एक धड़कन  पर

हुकूमत  है  तुम्हारी


उस  वक़्त  इंतजार  का  आलम  न  पूछिए

जब  कोई  बार  बार  कहे  आ  रहा  हु  मैं


तेरा इंतज़ार मुझे हर पल रहता है,

हर पल मुझे तेरा एहसास रहता है,

तुझ बिन धड़कन रुक सी जाती है,

क्यूंकि तू मेरे दिल में धड़कन बन कर रहता है।

कुछ भी लिखूँ, कुछ भी कहूँ,

बिन तुम्हारे सब अधूरा है।


न जाने क्या कमी है मुझमे,

और न जाने क्या खूबी है उसमे,

वो मुझे याद नहीं करती,

और मैं उसे भुला नहीं पाता



पढ़ रहा हूँ मै

इश्क़ की किताब ऐ दोस्तों

ग़र बन गया वकील तो

बेवफाओं की खैर नही ||


काश वो आये और गले लगाकर कहे

पागल मुझसे भी रहा नही जाता तेरे बिना।


चाहे कितनी भी तकलीफ दे इश्क़,

पर सुकून भी इश्क़ से ही आता है।

Best Love, Sad, Romantic, Attitude, Dard Shayari 2050


तुम लाख दुआ कर लो मुझसे दूर जाने की ..

मेरी दुआ भी उसी खुदा से है तुझे मेरे करीब लाने की.



तुम कब सही थे

…इसे कोई याद नही रखता,

तुम कब गलत थे

…इसे कोई नही भूलता.


कुछ  ख़ास  नहीं  बस  इतनी  सी  है  मोहब्बत  मेरी  ,

हर  रात  का  आखरी  ख़याल  और  हर  सुबह  की  पहली  सोच  हो  तुम


क्या नाम दूँ मैं अपनी मोहब्बत को..

कि ये तेरा सिवा किसी और से होती ही नहीं..!!


निकले  हम  दुनिया  की  भीड़  में  तो  पता  चला ,

हर  वो  शख्स  तनहा  है  जिसने  प्यार  किया .


चाहो  तो  दिल  से  हमको  मिटा  देना , चाहो  तो  हमको  भुला  देना ,

पर  ये  वादा  करो  की  आये  जो  कभी  याद  हमारी … तो  रोना  नहीं  बस  मुस्कुरा  देना …!


अगर किसी दिन रोना आये,

तो आ जाना मेरे पास,

हंसने का वादा तो नहीं करता,

मगर रोऊंगा जरुर तेरे साथ!


ख़तम हो गयी कहानी बस कुछ अलफ़ाज़ बाकी हैं,

एक अधूरे इश्क की एक मुकम्मल सी याद बाकी है।


वो निकल गए मेरे रास्ते से इस कदर कि,

जैसे कि वो मुझे पहचानते ही नहीं,

कितने ज़ख्म खाए हैं मेरे इस दिल ने,

फिर भी हम उस बेवफ़ा को बेवफ़ा मानते ही नहीं


कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,

कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी,

बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,

आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी


अफ़सोस  होता  है  उस  पल  जब  अपनी पसंद  कोई  और  चुरा  लेता  है

ख्वाब  हम  देखते  हैं  और  हक़ीक़त  कोई  और  बना  लेता  है


न रहा कर उदास ऐ दिल

किसी बेवफा की याद में,

वो खुश है अपनी दुनिया में

तेरा सबकुछ उजाड़ के।


खुदा ने पूछा क्या सज़ा दूँ उस बेवफ़ा को,

दिल ने कहा मोहब्बत हो जाए उसे भी।


ला तेरे पैरों पर मरहम लगा दूं

कुछ चोट तो तुझे भी आई होगी मेरे दिल को ठोकर मारकर



सुनो  एक  बार  और  मोहब्बत  करनी  है  तुमसे

लेकिन  इस  बार  बेवफाई  हम  करेंगे


दिल  भी  तोडा  तो  सलीक़े  से  न  तोडा  तुमने

बेवफाई  के  भी  अदब  हुआ  करते  हैं


खा कर ज़ख़्म दुआ दी हमने,

बस यूही उमर बीता दी हमने,

देख कर जिसको दिल दुखता था,

आज वो तस्वीर जला दी हमने!!


इजाज़त हो तो तेरे चहेरे को देख लूँ जी भर के..

मुद्दतों से इन आँखों ने कोई बेवफा नहीं देखा।


वो कह कर गई थी कि लौटकर आऊँगी,

मैं इंतजार ना करता तो क्या करता,

वो झूठ भी बोल रही थी बड़े सलीके से,

मैं एतबार ना करता तो क्या क्या करता



रात बजती थी दूर शहनाई

रोया पीकर बहुत शराब कोई


जान कर भी वो मुझे जान ना पाए, आज तक वो मुझे पहचान ना पाए,

खुद ही करली बेवफ़ाई हमने, ताकि उन पर कोई इल्ज़ाम ना आए



वफादार और तुम…?

ख्याल अच्छा है, बेवफा और हम…??

इल्जाम भी अच्छा है…



तु बदली तो मजबूरियाँ थी……????

और जब

मै बदला तो बेवफ़ा हो गया !!


बहुत सोचा बहुत समझा बहुत ही देर तक परखा

कि तन्हा हो के जी लेना मोहब्बत से तो बेहतर है


आंखों में जिनके बस गई दुनिया भर की रौनकें

वो शख्स बेवफाई का एक जिंदा मिसाल था


सारी दुनिया छोड़ कर एक तुमपर ही मर मिटे थे

वरना ना चाहतो की कमी थी ना चाहने वालो की

Post a Comment

0 Comments