header ads

OP SUPER SAD STAUS SHAYARI HINDILatest शायरी

Latest शायरी SUPER SAD STAUS SHAYARI HINDI

hindi shayari sad status facebook shayari hindi status sad status hindi sad shayari in hindi

sad shayari whatsapp status love sad shayari in hindi best sad status in hindi

very sad

हाथ पकड़ ले अब भी तेरा हो सकता हूँ मैं

भीड़ बहुत है, इस मेले में खो सकता हूँ मैं

 

पीछे छूटे साथी मुझको याद आ जाते हैं

वरना दौड़ में सबसे आगे हो सकता हूँ मैं

OP SUPER SAD STAUS SHAYARI HINDI

 

कब समझेंगे जिनकी ख़ातिर फूल बिछाता हूँ

इन रस्तों पर कांटे भी तो बो सकता हूँ मैं

 

इक छोटा-सा बच्चा मुझ में अब तक ज़िंदा है

छोटी छोटी बात पे अब भी रो सकता हूँ मैं

 

सन्नाटे में दहशत हर पल गूँजा करत्ती है

इस जंगल में चैन से कैसे सो सकता हूँ मैं

 

सोच-समझ कर चट्टानों से उलझा हूँ वरना

बहती गंगा में हाथों को धो सकता हूँ मैं


कभी टूटा नहीं दिल से तेरी याद का रिश्ता,

गुफ्तगू हो न हो ख्याल तेरा ही रहता है।


तेरी चाहत में रुसवा यूँ सरे बाज़ार हो गये,

हमने ही दिल खोया और हम ही गुनहगार हो गये।


जमाने भर की रुसवाईयाँ और बेचैन रातें,

ऐ दिल कुछ तो बता ये माजरा क्या है।


वही रखेगा मेरे घर को बलाओं से महफूज,

जो शजर से घोसला गिरने नहीं देता।


हवा खिलाफ थी लेकिन चिराग भी खूब जला,

खुदा भी अपने होने का क्या क्या सबूत देता है।


OP SUPER SAD STAUS SHAYARI HINDI


अब मायूस क्यूँ हो उस की बेवफाई पे फ़राज़,

तुम खुद ही तो कहते थे कि वो सबसे जुदा है।


इन बारिशों से दोस्ती अच्छी नहीं फराज,

कच्चा तेरा मकाँ है कुछ तो ख्याल कर।


क्या गिला करें तेरी मजबूरियों का हम,

तू भी इंसान है कोई खुदा तो नहीं,

मेरा वक़्त जो होता मेरे मुनासिब,

मजबूरिओं को बेच कर तेरा दिल खरीद लेता।


क्या बयान करें तेरी मासूमियत को शायरी में हम,

तू लाख गुनाह कर ले सजा तुझको नहीं मिलनी।


दम तोड़ जाती है हर शिकायत, लबों पे आकर,

जब मासूमियत से वो कहती है, मैंने क्या किया है?


मुझ में ख़ुशबू बसी उसी की है,

जैसे ये ज़िंदगी उसी की है।


वो कहीं आस-पास है मौजूद,

हू-ब-हू ये हँसी उसी की है।



ये मत पूछ के एहसास की शिद्दत क्या थी,

धूप ऐसी थी के साए को भी जलते देखा।


इतनी चाहत के बाद भी तुझे एहसास ना हुआ,

जरा देख तो ले दिल की जगह पत्थर तो नहीं।

OP SUPER SAD STAUS SHAYARI HINDI

अपने होंठों पर सजाना चाहता हूँ,

आ तुझे मैं गुन गुनाना चाहता हूँ।


कोई आँसू तेरे दामन पर गिरा कर,

बूँद को मोती बनाना चाहता हूँ।


कितने परवाने जले राज़ ये पाने के लिए,

शमां जलने के लिए हैं या जलाने के लिए।


किसी को प्यार का मतलब बस इतना सा समझाना,

शमा के पास जाकर के परवाने का जल जाना।


झूठ बोलते थे फिर भी कितने सच्चे थे हम,

ये उन दिनों की बात है जब बच्चे थे हम।


जब मुझसे मोहब्बत ही नहीं तो रोकते क्यूँ हो?

तन्हाई में मेरे बारे में सोचते क्यूँ हो?

जब मंजिलें ही जुदा हैं तो जाने दो मुझे...

लौट के कब आओगे ये पूछते क्यूँ हो?


करें हम दुश्मनी किससे, कोई दुश्मन नहीं अपना,

मोहब्बत ने नहीं छोड़ी, जगह दिल में अदावत की।


दुश्मनी का सफ़र एक कदम दो कदम,

तुम भी थक जाओगे, हम भी थक जाएंगे।


चुभता तो बहुत कुछ मुझको भी है तीर की तरह,

मगर ख़ामोश रहता हूँ, अपनी तक़दीर की तरह।


ऊपर वाले ने कितने लोगो की तक़दीर सवारी है,

काश वो एक बार मुझे भी कह दे कि आज तेरी बारी है।



देख कर मेरा नसीब मेरी तक़दीर रोने लगी,

लहू के अल्फाज़ देख कर तहरीर रोने लगी,

हिज्र में दीवाने की हालत कुछ ऐसी हुई,

सूरत को देख कर खुद तस्वीर रोने लगी।


तमन्नाओ की महफ़िल तो हर कोई सजाता है,

पूरी उसकी होती है जो तकदीर लेकर आता है।


कभी जो मुझे हक मिला अपनी तकदीर लिखने का

कसम खुदा की तेरा नाम लिख कर कलम तोड दूंगा।


अफ़सोस तो है तुम्हारे बदल जाने का मगर,

तुम्हारी कुछ बातों ने मुझे जीना सिखा दिया।


रखते थे होठों पे उंगलियां जो मरने के नाम से,

अफसोस वही लोग मेरे दिल के कातिल निकले।


गम नही कि तुम बेवफा निकली,

मगर अफ़सोस इस बात का है,

वो सब लोग सच निकले,

जिनसे मैं तेरे लिए लड़ा था।

Post a Comment

0 Comments