header ads

heart-touching-4-lines-shayari

heart-touching-4-lines-shayari

मुश्किल कोई आन पड़ी तो घबराने से क्या होगा,

जीने की तरकीब निकालो, मर जाने से क्या होगा,


सब मिलकर आवाज़ उठाएँ तो कुछ चाँद पे रोब पड़े,

मैं तन्हा जुगनू हूँ, मेरे चिल्लाने से क्या होगा?

heart-touching-4-lines-shayari


4 line shayari on life in hindi heart touching sad lines in hindi 2 line heart touching shayari in hindi  bewafa shayari in hindi

 बेसबब इम्तेहान मत देना 

तुम मोहब्बत में जान मत देना 

आँख मुंसिब है दिल हकीकत है 

कुछ भी सोच के झूठा बयान मत देना 


तुम्हें जीतेजी  हम खुदा होने नहीं देंगे 

दिए रौसन करेंगे और मुँडेरों पे भी रखेंगे 

मगर तुमको कभी भी हम हवा होने नहीं देंगे 

चरागों तुम अगर बुझ भी गए वादा है हम जुगनू 

अँधेरों का जहां मे दबदबा होने नहीं देंगे 


रशमों की जंजीर  भी तोड़ी जा सकती है 

तेरी खातिर दुनिया छोड़ी जा सकती है 

उसको भुलाकर मुझको ये मालूम हुआ है 

आदत कैसी भी हो छोड़ी जा सकती है 

ये जो छोटे छोटे से पल है ना 

इनमे से एक उम्र निचोड़ी जा सकती है 


खूब सुकून देते थे दिल को खूब सताया करते थे 

याद भी उसको रोज किया और रोज भुलाया करते थे,

सहर बसाने की उम्मीदें अब उनसे करनी होंगी 

वो जो कल तक सहरों सहरों आग लगाया करते थे । 

heart-touching-4-lines-shayari


याद नहीं रहता था कुछ भी जब वो कहता था बोलो 

जब की क्या क्या कहना है सब सोच के जाया करते थे 

खौफ खुद आ बैठा दिल में दुनिया से मुह फेर चुके 

वरना तेरे जैसों के हम होश उढ़ाया करते थे । 


आप भुलाकर देखो, हम फिर भी याद आएंगे,

आपके चाहने वालों में,

आपको हम ही नज़र आएंगे,

आप पानी पी-पी के थक जाओगे,

पर हम हिचकी बनकर याद आएंगे.


जब जब में लेता हूँ साँस तू याद आती है,

मेरी हर एक साँस मे तेरी खुश्बू बस जाती है,

कैसे कहूँ तेरे बिना में ज़िंदा हूँ,

क्यूंकी हर साँस से पहले तेरी खुश्बु आती है…


“इश्क के सहारे जिया नहीं करते,

गम के प्यालों को पिया नहीं करते,

कुछ नवाब दोस्त हैं हमारे,

जिनको परेशान न करो तो वो याद ही किया नहीं करते.” 


बरसात आये तो ज़मीन गीली न हो,

धूप आये तो सरसों पीली न हो,

ए दोस्त तूने यह कैसे सोच लिया कि,

तेरी याद आये और पलकें गीली न हों।


हर रोज़ पीता हूँ तेरे छोड़ जाने के ग़म में,

वर्ना पीने का मुझे भी कोई शौंक नहीं,

बहुत याद आते है तेरे साथ बिताए हुये लम्हें,

वर्ना मर मर के जीने का मुझे भी कोई शौंक नहीं|


किसी को चाहो तो इस अंदाज़ से चाहो,

कि वो तुम्हे मिले या ना मिले,

मगर उसे जब भी प्यार मिले,

तो तुम याद आओ…!!


उमर की राह मे रास्ते बदल जाते हैं

वक़्त की आँधी मे इंसान बदल जाते हैं

सोचते हैं आपको इतना याद ना करें

लेकिन आँख बंद करते ही इरादे बदल जाते है…


लोग कहते हैं कि इश्क मत करो,

कि हुस्न सर पे सवार हो जाये,

हम कहते हैं कि इश्क इतना करो,

कि पत्थर दिल को भी तुमसे प्यार हो जाये.


“कोई दोस्त कभी पुराना नहीं होता,

कुछ दिन बात न करने से बेगाना नहीं होता,

दोस्ती में दुरी तो आती रहती हैं,

पर दुरी का मतलब भुलाना नहीं होता.”


Post a Comment

0 Comments